मणिपुर हिंसा : कर्मचारी संगठनों ने पीएम मोदी का पुतला फूंका

Sks 1

करनाल, अभी अभी। मणिपुर में तीन महीनों से जारी हिंसा के प्रति गुस्सा जाहिर करते हुए कर्मचारी, किसान और मजदूर संगठनों ने कमेटी चौक पर प्रधानमंत्री का पुतला फूंका। कर्ण पार्क में सभा करने के बाद प्रदर्शन किया गया। हिंसा के दोषी लोगों को सख्त से सख्त सजा देने की मांग की गई।
अखिल भारतीय किसान सभा, किसान यूनियन, सीटू, जनवादी महिला समिति, अखिल भारतीय खेत मजदूर यूनियन, रिटायर कर्मचारी संघ व सर्व कर्मचारी संघ के पदाधिकारियों ने अपने विचार रखे। जगमाल सिंह, सतपाल सैनी, सुशील गुर्जर, जरासो देवी, बीर सिंह, जिले सिंह पाल व जगपाल राणा ने कहा कि भारत के मणिपुर राज्य में पिछले 80 दिनों से जातीय टकराव के चलते बर्बर हिंसा, आगजनी व महिलाओं के साथ बर्बर अत्याचार व दरिंदगी हो रही है। इन्टरनेट पर प्रतिबंध लगाए जाने के कारण जनता पर हो रही ज्यादती का बाकी भारत की जनता को पता भी नहीं चलता है। राज्य का मुख्यमंत्री व उसकी सरकार राज्य की भयावह स्थिति पर काबू नहीं कर पा रहे। केन्द्र सरकार भी राज्य की भयावह स्थिति के प्रति संवेदनशील नहीं है।
इस अवसर पर सतपाल सैनी, जगपाल राणा, कामरेड जगमाल सिह, शीश पाल, जिले सिंह पाल, कृष्ण, सुशील गुर्जर, रोशन गुप्ता, रीना, पार्वती तनेजा, कांता देवी, जरासो देवी, रामबिलास महतो, बीर चंद, एसपी त्यागी, अशोक अरोड़ा, गुरमुख सिंह, फतेह सिंह, धर्मपाल व जयनारायण ने संबोधित किया।